देहाती सेक्सी बीएफ व्हिडिओ

Image source,सैकसीकहानी

तस्वीर का शीर्षक ,

होली की सेक्सी फिल्म: देहाती सेक्सी बीएफ व्हिडिओ, पहली बार में बिना किसी विरोध के कोई कैसे माल अन्दर ले सकता है?तो मैं आपको बता दूँ कि जैसे मैंने किया था.

इंडिअन सेक्स

वैसे तो मैं अन्तर्वासना का नियमित पाठक हूँ और रोज रात को कहानियाँ पढ़ता हूँ।अब मैं अपनी नौकरानी के साथ सम्भोग के बारे में बता रहा हूँ।यह बात आज से लगभग 4 साल पहले की है. सेक्स फिल्म इंग्लिश सेक्सवो ज़ोर-ज़ोर से सिसकारियाँ ले रही थी।नीरज भी पूरी ताक़त से जीभ घुसा-घुसा कर उसको चोदने लगा। आख़िरकार नीतू की चूत ने पानी की धार मार ही दी.

हेमा अब यूएसए (अमेरिका) में रहती है। कल उसने काफी दिनों बाद मुझे मेल किया और कहा- हम दोनों के बीच जो भी हसीन पल थे. साउथ की हीरोइनों के नंगे फोटोआज तो वाकयी मुझे जन्नत मिलने वाली है।पर अगले ही क्षण मेरी सोच को झटका सा लगा… दोस्तों उस समय हम बस में जो थे और वीडियो भी बन्द हो गया था। अब उसकी हल्की सी भी चीख सबको चौकन्ना कर सकती थी।अब मैंने अपने शक का निवारण करना ज्यादा जरूरी समझा इसलिए चालू से पूछा- चालू क्या तुमने पहले भी कभी किया है?शुरू- क्या.

तो हम लड़कियाँ ऐसे ही एक-दूसरे के सामने कपड़े बदली करते हैं इसमें क्या बड़ी बात है?राधे को अपनी ग़लती का अहसास हो गया अक्सर लड़कियाँ ऐसा ही करती हैं मगर राधे तो लड़का था.देहाती सेक्सी बीएफ व्हिडिओ: कब मेरे होंठ उनके होंठों पर आकर ठहर गए और मेरा बायां हाथ उनकी कमर में से होकर उनके चूतड़ों को मसकने के साथ-साथ दायां हाथ उनके मम्मों की सेवा करने लगा।आंटी और मैं इतना बहक गए थे कि दोनों में से किसी को भी इतना होश न रहा कि घर में उनके जवान बेटे और बेटी भी हैं।मैं और वो.

अब मैं यह सोच रहा था कि यह चूत देगी या मेरा उल्लू बनाएगी। दूसरे दिन मैं काम पर चला गया और जब शाम को वापिस आया तो दरवाजे पर एक पत्र पड़ा मिला।मैंने उसे खोल कर पड़ा तो मैं खुश हो गया क्योंकि यह पत्र उसी औरत यानि सीमा ने लिखा था। सीमा ने लिखा था कि वह मुझसे मिलना चाहती है और क्या मैं ‘इंटरेस्टेड’ हूँ?मैं तो पूरा ‘इंटरेस्टेड’ था और मैं बाहर बालकनी में खड़ा.जब नीरज ने रोमा को घर ड्रॉप किया था।रोमा को ड्रॉप करने के बाद नीरज बहुत खुश था। करीब 15 मिनट बाद ही उसने रोमा को कॉल कर दिया।नीरज- हैलो.

एप्रन बनाने की विधि - देहाती सेक्सी बीएफ व्हिडिओ

उसने मस्त सफ़ेद रंग की ब्रा पहन रखी थी। मैंने धीरे-धीरे उसके सारे कपड़े उतार दिए और अपने भी कपड़े उतार दिए।अब हम दोनों नंगे थे.जाओ अब तैयार हो जाओ स्कूल नहीं जाना क्या?मीरा ने आगे बढ़कर दिलीप जी के गाल पर एक पप्पी दी और ‘आई लव यू’ कहा और वहाँ से अपने कमरे में चली गई।दस मिनट बाद वो जब वापस आई.

इतना कहकर वो सामने के सोफे पर बैठ गई और मेरे कपड़े उतारने का इन्तजार करने लगी।सोफे पर बैठने के बाद उसकी सिर्फ़ नंगी टाँगें ही मुझे दिख रही थीं.देहाती सेक्सी बीएफ व्हिडिओ और तुमने मुझे कहाँ देखा?तो उसने नहीं बताया और वो ऑफलाइन हो गई।उसके अगले दिन हम फिर से फ़ेसबुक पर ऑनलाइन हुए.

करीब 5 मिनट के बाद मेरा हाथ मौसी के शरीर पर रेंगने लगा और मैंने उनकी नाईटी ऊपर तक उठा दी और उनकी चूची चूसने और दबाने लगा।आधा घंटे बाद मैंने अपनी एक उंगली उनकी चूत में डाल दी और आगे-पीछे करने लगा। अभी कुछ पल पहले ही चुदने के कारण मौसी की चूत गीली थी और वो झड़ने का नाम भी नहीं ले रही थीं.

हॉट सेक्स फिल्म?

देहाती सेक्सी बीएफ व्हिडिओ पर उस वक्त तो मुझे उसके जिस्म के सिवाए कुछ नहीं दिख रहा था।उसने मुझे जोर से धक्का दिया और उठ कर बैठ गई। तब मुझे होश आया.

सबसे अच्छी वैक्स?मोहिनी सेक्सी

देहाती सेक्सी बीएफ व्हिडिओ और मुझे पक्का विश्वास दिलाए कि मुझे बच्चा देकर वो कभी मुझे परेशान नहीं करेगा। तब मैं ख़ुशी से उसको अपनी चूत दे दूँगी।ये सब कहते-कहते ममता की आँखों में आँसू आ गए।राधे- तुम्हारा दिल दुखाने का मेरा बिल्कुल इरादा नहीं था ममता.

सटका मटका गोल्डन चार्ट

शक्ति कपूरमैं वहाँ से अपनी वैन में आया और आज मैंने आगे के और दो सीन पूरे कर लिए।मेरे हर शॉट के साथ तालियों की गूंज बढ़ती ही चली गई, वहाँ मौजूद हर इंसान को मैंने अपना दीवाना बना लिया था।मैं अब वापस घर की ओर निकल पड़ा। मैं जब गाड़ी की तरफ बढ़ रहा था.बताओ न यार!तो वो शरमाई और बोली- मैं नहीं बता सकती।वो मुझसे मजाक में कहने लगी थी- मैं तो तुझसे ही शादी करुँगी।मैंने बोला- मैं कभी शादी ही नहीं करूँगा।उसने कहा- ऐसा क्यों?‘मुझे तो कुछ पता ही नहीं है शादी के बारे में.

देहाती सेक्सी बीएफ व्हिडिओ मेरा तो मन हो रहा है कि तुम्हें कच्चा चबा जाऊँ।फिर उसने मेरे गालों पर अपने दांत गड़ा दिए।मैंने उसे खुद से दूर धकेलते हुए कहा- ये क्या कर रही हो? मैं किसी और को चाहता हूँ.

हिंदी विलेज सेक्स

मारवाड़ी न्यू सेक्समुझे समझ नहीं आ रहा था कि भैया इनको कैसे अकेला छोड़ सकते हैं।मैं उनके मम्मों से बहुत खेला और अब मेरा लंड एकदम गर्म हो रहा था।भाभी बोलीं- प्लीज कबीर.

वो बर्तन लौटाने और मुफ्त में मिठाई खाने।मेरा इतना कहना ही था कि तभी पास पड़े मेरे बिस्तर के तकियों की बरसात मुझ पर शुरू हो गई।खैर.परआज तक अकेलापन ही तो मुझे खाए जा रहा है।मैं उन्हें सांत्वना देने के लिए उनके पास गया और प्यार से उनके सर पर हाथ फेरा तो वो खुश हो गई.

वो मुझे हवस की प्यासी लग रही थीं।अचानक ही वो मुझसे लिपट गईं और मुझे अपनी बाँहों में कस कर पकड़ लिया और अपना सिर मेरे सीने में रख दिया और मुझसे कहने लगीं- मुझे कभी भी छोड़ कर मत जाना.

भाभी और मेरी पहले मुलाकात गली की ही एक पार्टी के अवसर पर हुई थी। भाभी ने उस दिन गुलाबी रंग की साड़ी पहनी हुई थी। एक तो उनका गोरा रंग.

सुबह जब उठे…रिया ने कहा- काश तुम लड़की होते!मैं- उससे क्या होता?रिया- मैं हमेशा तुम्हारे साथ रहती फिर!मैं- साथ रहने के लिए मैं तो अभी भी रह सकता हूँ कपड़े बदल के, किसी को पता नहीं चलेगा।रिया- अच्छा, ज़रा मेरे लिए यह पहन कर दिखाओ ना प्लीज़…उसने मुझे अपनी ब्रा पैंटी, एक जीन्स-टॉप दिए. वो बहुत ही सुंदर घर था।हम लोग थोड़ी देर बात करते रहे और इसी बीच उसने चाय बना ली हम दोनों ने बात करते-करते चाय भी पी।फिर उसने मुझसे पूछा- आर्यन.

रक्षा बंधन कब की है उस समय एक दिन उसका मैसेज आया और वो अपनी चुदाई की पूरी कहानी बता कर रोने लगी।उसके मैसेज को पढ़ कर मैंने उससे बात की और फिर हमारी बातचीत शुरू हो गई। बातचीत से मालूम हुआ कि वो एक अच्छी कंपनी में पोस्टेड है।आज भी मैं और वो एक-दूसरे को बहुत याद करते हैं। लेकिन हम अभी भी ब्वॉय-फ्रेण्ड और गर्ल-फ्रेण्ड नहीं हैं।अभी कुछ दिन पहले अपने दोस्तों के साथ वो दिल्ली घूमने आई थी.

सेक्सी चाहिए देहाती सेक्सी

देहाती सेक्सी बीएफ व्हिडिओ: तो मैं जानबूझ कर अपने कपड़े नहीं ले गया और नहाने के बाद सिर्फ़ गमछा पहन कर बाहर आया और दीदी को कहा- मेरे कपड़े कहाँ हैं?तब दीदी मेरे कपड़े देखने लगीं.क्योंकि लड़की हंसी तो फंसी।अब मेरी और डॉली की बात पूरी तरह जम चुकी थी। हम पेपर देकर वापस बस से घर वापस आने लगे.