बीएफ सेक्स दिल्ली

Image source,फुल एचडी में बीएफ वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

घड़ी बीएफ बीएफ: बीएफ सेक्स दिल्ली, तो कभी चूचियों को टच कर देता।।मुझे ये सब करने में बहुत अच्छा लग रहा था.

सेक्सी और बीएफ सेक्सी और बीएफ

थोड़ी देर बाद मैडम ने दरवाजा खोल दिया। इस वक्त मैडम एक नाइटी में थीं।मैडम के आम लटक रहे थे. हिंदी बीएफ देसी देसीना जाने उनको कितना जोश चढ़ गया था।मेरी पैन्टी फटने के बाद मैंने भी उनका कच्छा फाड़ दिया और उनके लंड से खेलने लगी। जिस लंड के लिए मैं इतने दिनों से तड़फ़ रही थी.

ब्रा ना पहनने पर रोज़ ही अम्मी से डांट पड़ती थी और उस वक़्त ब्रा से बचने के लिए ही मैंने बड़ी सी चादर लेनी शुरू की थी. आंटी के बीएफउनका हर अमल इस सीन की पसंदीदगी की गवाही दे रहा था।आपी ने अपनी टाँगों के दरमियान से हाथ उठाया और थोड़ा झुक कर अपने अबाए को बिल्कुल नीचे से पकड़ा और ऊपर उठाने लगीं.

इस बार मुझे एहसास हुआ कि वो पहले से ज्यादा कम्फ़र्टेबल तरीके से मेरे बिल्कुल नजदीक अपने हाथों को मेरे कंधे पर रख कर बैठी थी।हम ऐसे ही कुछ देर बाइक पर घूमते रहे और फिर मैंने उसको घर ड्रॉप कर दिया। पता नहीं क्यों.बीएफ सेक्स दिल्ली: मैं डाइरेक्ट आपी की आँखों में देख रहा था और लण्ड पर अपना हाथ चला रहा था।आपी भी कुछ देर मेरी आँखों में देखती रहीं और फिर अपना चेहरा फेर लिया। मैं भी घूमा और फिर फरहान को किसिंग करने लगा। अब हम दोनों की नजरें आपी पर नहीं थीं। मैंने आँखों के कॉर्नर से देखा.

तो मैं भी अपना लण्ड से धीरे-धीरे धक्के मारने लगा।अब नेहा भी मेरा पूरा साथ दे रही थी और उसके मुँह से अब अजीब से आवाजें निकलने लगी थीं ‘आह्ह.और इसी चूत चुदाई में वो झड़ गई। मैंने भी 5-7 धक्कों के बाद अपना वीर्य उसकी चूत में छोड़ दिया।हम दोनों थक चुके थे।मैं थोड़ी देर उसके ऊपर ही पड़ा रहा.

सेक्सी बीएफ वीडियो बढ़िया वाली - बीएफ सेक्स दिल्ली

और वैसे भी कपड़े निकालते टाइम उसने हरकतें ऐसी कीं कि बस मैं उसकी तरफ़ खिंचने लगी।सन्नी ने बातों के दौरान सारे कपड़े निकाल दिए.तो लाज़मी बात है कि आपको बहुत बुरा-भला कहा होगा?मैंने फरहान की तरफ देखा और उससे कहा- जो मैं तुम्हें बताने जा रहा हूँ.

अब तुम वर्जिन नहीं रही हो।यह कहानी आप अन्तर्वासना डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं !फिर मैंने लण्ड निकाल कर कंडोम चढ़ाया और फिर मैं फिर से लौड़े को उसकी चूत में अन्दर डालने लगा। वो चिल्ला रही थी.बीएफ सेक्स दिल्ली तुम दोनों यहाँ खड़े हो के क्यूँ दाँत निकाल रहे हो?मेरे कुछ कहने से पहले ही फरहान बोल पड़ा- आपी आज हमारे पास आपके लिए एक सरर्प्राइज़ है।फरहान की बात खत्म होने पर मैंने कहा- आपी आप चाहती थीं ना.

चाहे एक लम्हें का ही मज़ा था।ख़्वातीन और हजरात फिर से लिख रहा हूँ कि यह कहानी एक पाकिस्तानी लड़के सगीर की जुबानी है.

हिंदी सेक्सी बीएफ बीएफ हिंदी सेक्सी?

बीएफ सेक्स दिल्ली तभी अन्दर से नीलम चाची की आवाज़ आई। मैं उठ कर अन्दर गया तो देखा की वो झाड़ू लेकर खड़ी थीं। उन्होंने अपनी साड़ी फोल्ड करके अपनी कमर में खोंस रखी थी। उनके घुटने वैसे ही नंगे दिख रहे थे।उनको स्टोर के ऊपरी हिस्से में सफाई करनी थी.

सेक्सी हिंदी बीएफ ब्लू?वीडियो बीएफ वीडियो फिल्म

बीएफ सेक्स दिल्ली मेरी गाण्ड फट गई… सारा जोश ठंडा हो गया… और मैं घबरा गया… मेरी समझ में नहीं आ रहा था कि क्या करूँ।मैं दीदी के पैरों को पकड़ कर माफी माँगने लगा।दीदी ने मुझे दो चांटे मारे और बहुत बुरा भला कहा।उन्होंने मेरे घर पर सब बताने को कहा और वे रोते हुए उठीं और मीना दीदी के कमरे में चली गईं।मैं उठा और कपड़े पहनने लगा.

सेक्सी बीएफ सेक्सी ब्लू पिक्चर

तो बड़े आराम से इस बार उसे निगल गई।अब मैं उसके स्तन निचोड़ते हुए झटके दे रहा था। जिसे वो भी एन्जॉय कर रही थी।वो भी कभी अपनी कमर को आगे-पीछे करती.यह कहानी आप अन्तर्वासना डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं !वो मुझे हाथ पकड़ कर जबरन उठाते हुए अपने कमरे में ले गईं और मेरे अंडरवियर में हाथ डाल कर मेरा लिंग पकड़ कर बोलीं- मेरे राजा प्लीज़.

बीएफ सेक्स दिल्ली खैर अभी तो इस कहानी का अंत होना बाकी है।सुबह रॉनी उठा और सबको उठाया। रॉनी कुछ कहता तभी उसके फ़ोन की रिंग बजी। उसने बात की और सामने से उसने जो सुना वो हक्का-बक्का रह गया.

हिंदी बीएफ सेक्सी वीडियो चुदाई

सेक्सी बीएफ देसी भाभी काऔर सब लोग अपनी बहनों बेटियों को मेरी इस बहन की मिसालें दिया करते थे।मेरी वो बहन सारा दिन घर में अबाए के अन्दर नंगी रहती है.

ऐसी स्थिति में भी खड़ा हो जाता है।मैंने आवाजें फोन पर सुनते-सुनते मुठ मारी और झड़ गया।फिर अकेला टैक्सी से वापस होटल के कमरे में आ गया और बिस्तर पर पीठ ऊपर करके सो गया।कीर्ति दो घन्टे बाद आई.तो मैं उठा और बोला- मौसी मुझे अभी और सोना है।तो मौसी बोलीं- कोई बात नहीं.

तुम बेझिझक हो कर इसे देखो और आनन्द लो। यह भी पढ़ाई की तरह से जीवन में बहुत काम आएगा।लाइट को बंद कर दिया गया.

मैंने ध्यान नहीं दिया और अपना मोटा हथियार उसकी गाण्ड में ठोकता चला गया। वो बहुत चिल्लाई.

मैं भी जन्नत में था।मैं बता नहीं सकता कि कितना यादगार पल था।वो आवाजें निकालते हुए झड़ रही थी. तो कभी किस करके उन्हें चूसने लगा।मुझे पता था कि कल से मुझे मैडम की चूत नहीं मिलेगी.

तिरस्कार मधु का बीएफ वो उसी दिन चली गई थी जब उसने तुम्हें मेरे घर से निकलते देखा था।जिस दिन मैंने भाभी से बबीता के बारे में पूछा था उसके दो दिन बाद बबीता वापस आ गई।मैंने उसे देखा वो एक चुस्त पजामी.

नए-नए जानवर और लड़की वाला बीएफ

बीएफ सेक्स दिल्ली: मैंने भी उसे जोर-जोर से किस करना शुरू कर दिया।हम दोनों एक-दूसरे को पागलों की तरह किस करने लगे और अचानक मेरा हाथ उसके चूचों पर चला गया। उसने कोई विरोध नहीं किया.उनके घर में रह सकती हूँ।पापा ने घर आकर मुझे और मॉम को बताया कि अगर तुम लोगों को कोई एतराज़ न हो.