पुट्ठे का दर्द

Image source,सेक्सी फिल्म पुरानी

तस्वीर का शीर्षक ,

हिंदी ब्लू फिल्म चलाओ: पुट्ठे का दर्द, उन्हें मेरे बारे में सब पता चला तो सर ने मुझे एक दिन बुलाया और खूब डांटा- तुम किसे किसे अपने रूम में रखती हो, तुम्हें दुनिया का कुछ ख्याल भी है?मैं चुपचाप सुनती रही.

मुसलमान सेक्सी वीडियो फुल एचडी

जब तक सन्नी ने मेरी गांड में अपने लंड को पेल नहीं लिया, तब तक जीजू ने मुझे नहीं छोड़ा. जापान सेक्स वीडियो डॉट कॉमबाद में पता चला और चुदाई के बाद मीना ने भी बताया था कि लंड अन्दर जाकर ऐसा लग रहा था कि मुँह से निकल आएगा.

उफ्फ आह दर्द हो रहा है निकालो उंगली मत करो अह्ह्ह उम्म्म … आह अच्छा लग रहा है आह्ह धीरे धीरे आह्ह उफ्फ आशु ये सब कहां से सीखा … उफ्फ और तेज करो अहह अह्ह ओह्ह तेज करो और तेज करो उफ्फ आउच लगती है उफ्फ तेज और तेज करो!”ये सब कहते हुए मीना ने अपना रस छोड़ दिया. सेक्स वीडियो देहाती फिल्मउसके बूब्स मेरी पीठ से टकरा रहे थे और उसका हाथ मेरी कमर से होते हुए आगे की ओर था जो हल्का हल्का मुझे सहला भी रहा था.

कुछ देर बाद जीजू ने सन्नी को अलग किया और वो मेरे पेट पर दोनों तरफ टांगें डाल कर बैठ गए.पुट्ठे का दर्द: समय न गंवाते हुए मैंने भाभी को चुदाई की पोजीशन में लिया और अपना लंड निकाल कर सीधा भाभी की चुत में पेल दिया.

अब प्रिया अपनी सहेली के घर में रुक गई और मैं एक होटल में जाकर रुक गया.उस जमाने में हम लड़के ‘सुसु …’ करते वक़्त लंड की धार से पेंच लड़ाया करते थे.

नई कंडोम डिजाईन - पुट्ठे का दर्द

तभी मैंने सोचा कि लोहा गर्म है, क्यों न अभी ही हथौड़ा मार दिया जाए.एक शाम मैं अपने छत पे बने गार्डन में चाय पी रहा था।मेरे बगल वाली छत से भाभी ने आवाज़ लगाई.

राहुल- क्यों नहीं खुली होगी यार … मैंने पूरे 2 साल से तुम्हारी बहन को चोद रहा हूँ.पुट्ठे का दर्द पाठिका के घर में क्या हुआ?दोस्तो, मैं अंकित एक बार फिर से आपके लिए चुत की अदला बदली वाली चुदाई की कहानी लेकर हाजिर हूँ.

मैं भाभी को करीब 25 से 30 मिनट तक चोदता रहा और वह भी चिल्ला चिल्ला कर चुदाई के मजे लेती रहीं.

सेक्स हिंदी फिल्म?

पुट्ठे का दर्द मैं जब इंदौर एडमिशन लेने आया था तब मैं चाचा के घर खाना खाने गया था.

16 साल का?सेक्सी सेक्सी मोटी

पुट्ठे का दर्द वो मेरे लंड पर बैठकर कैसे कूदी?हैलो मित्रो, मेरी इस देसी मामी सेक्स कहानी में आप सभी का स्वागत है.

फुल एचडी सेक्स

अब सनी ने उसके मुँह में ऐसे तेज धक्के लगाने शुरू कर दिए मानो उसका मुँह उसकी चूत की तरह से फाड़ देना चाहता हो.पहले दादी और छोटी बहन का बिस्तर ठीक किया, फिर मेरे बगल में बैठ गयी.

पुट्ठे का दर्द मान जाए, तो उसके साथ घूमना फिरना, किसी रेस्त्रां में जाना, मूवीज जाना.

घटिया लोग शायरी

जनवरी 2022 में अमावस कब की हैसाल भर बाद वह लड़का एक दिन मेरे घर आया और उसने बताया कि मेरे कहने पर चाट का ठेला चालू किया और साल भर में छोटा सा रेस्टोरेंट हो गया.

हम दोनों की इतनी गहरी दोस्ती थी कि हम दोनों हर तरह की बातें कर लेते थे और बहुत कुछ शेयर भी कर लेते थे.उन्होंने 1-2 मिनट इधर उधर देखा और जब उनको यकीन हो गया कि मेरा ध्यान उन पर नहीं है, तो वो गौर से देखने लगीं.

मोहिनी को चुदाई के आनंद के बाद उसकी चूत में वीर्य भरने से बहुत तृप्ति मिली.

मामी जोर से चिल्ला उठीं- उई मम्मी रे … मर गई रे … साले मैं कोईबाजारू रंडीनहीं हूँ … आराम से कर!मैं उनके मम्मों को चूसने लगा और धीरे धीरे लंड को अन्दर बाहर करने लगा.

मम्मी ने उससे पूछा- आप कहां जा रहे हो?उसने कहा- मैं शादी में जा रहा हूँ. साफिया ने अपने पैर खोल दिए जैसे कहना चाह रही हो कि अब इस चूत के मालिक आप हो मेरे प्यारे मामा!फिरोज ने उसे किस करते करते उसके कान को अपने मुंह में ले लिया.

मारवाड़ी महिला सेक्स मैंने कहा- कुछ नहीं होगा … बोल दीजिएगा कि घर में ब्रा नहीं पहनती हूँ और कहीं जाना होता नहीं है, इसलिए ऐसा हुआ है.

हिंदी सेक्सी विडियो हिंदी

पुट्ठे का दर्द: मेरी बीवी ने पूछा- मां, क्या हुआ?तो वो बोलीं- पैर में मोच आ गयी है.अभी मेरी चुत की फांकों ने लंड को महसूस किया ही था कि जीजू ने एक तेज धक्का दे दिया.