बीएफ का फुल फॉर्म

Image source,साल लड़की की बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी और बीएफ हिंदी में: बीएफ का फुल फॉर्म, तो अचानक मेरी नज़र उनकी छत पर गई।मैंने पहली बार उनको नहा कर कपड़े बदलते हुए देखा। उनको इस हालत में देखते ही मेरे होश उड़ गए और मैं उनको देखता ही रह गया।मैंने आज तक इतना सुंदर और सेक्सी माल कभी नहीं देखा था.

इंडिया सेक्सी बीएफ हिंदी

”मौसा नीचे से घोड़ी की लगाम की तरह मेरे हिल रहे मम्मे पकड़ दबाने लगे और झटके पर झटके लगाने लगे। फिर मुझे लिटाया एक टांग उठाई अपने कंधे पर रख कर मेरे बिल्कुल पीछे लेते हुए लंड घुसा दिया।अब क्या बताऊँ. स्कूलों की बीएफमैंने उसको अपनी ओर खींचा तो वो मेरी गोद में आ गई। हम दोनों एक-दूसरे को चुम्बन करने लगे और एक-दूसरे के कपड़े उतारने लगे। थोड़ी देर में ही हम दोनों बिल्कुल नंगे हो चुके थे।उसने मेरे लण्ड अपने हाथों से पकड़ा और अपने मुँह में लेकर चूसने लगी।दोस्तो.

उस वक्त तो मैंने उसे जैसे-तैसे करके वहाँ से चले जाने को कहा परन्तु अब मेरी समझ में नहीं आ रहा कि मैं क्या करूँ?इस मसले को कैसे हल करूँ?. बीएफ फिल्म हिंदी में बीएफ हिंदी मेंमेरी जान ही निकाल दी तुमने…अब सोनम को अहसास हुआ कि वो मेरी बाँहों में नंगी बैठी है। जब तक वो कुछ करती.

मेरे हाथ कभी उसकी गोटियों पर थे तो कभी गाण्ड पर घूम रहे थे।करीब 15 मिनट तक लौड़ा चूसने के बाद उसने मेरा सिर पूरी ताक़त से अपने लंड के ऊपर दबा दिया.बीएफ का फुल फॉर्म: तुम सिर्फ़ वो करती जाओ और देखो मैं तुम्हें पूरे जन्नत की सैर करवाता हूँ।फिर हरेक दिन मैं अपना दिमाग़ चलाता गया और सोनम जन्नत की सैर करते हुए स्वर्ग में पहुँच गई।तीसरे दिन मैंने सोनम को कहा- आज हम दोनों साथ मिलकर नहाएँगे।पहले सोनम ने मुझे नहाया.

जिससे मुझे भी बहुत अच्छा लग रहा था।एक तो बाहर बर्फ का ठंडा पानी जो कि लौड़े पर गिर रहा था और अन्दर माया के जलते हुए बदन का जलता हुआ गर्म काम-रस.अब मैं केवल आंटी को नहाते देख कर मुठ मार कर काम चला रहा था।फिर कुछ दिनों बाद कविता के भाई की शादी होने वाली थी।प्रोफेसर जी ने अब लॉज में अपना ठिकाना उसी लॉज में शिफ्ट कर लिया और उन्होंने एक दो कमरे वाला कमरा ले लिया।वे दोनों कमरे आपस में जुड़े हुए थे।पुराने वाले कमरे में एक भाभी जी रहने को आईं.

बीएफ सेक्सी इंडियन वीडियो - बीएफ का फुल फॉर्म

।मैं भी उनको पागलों की तरह चूम रहा था और उनके मम्मे दबा रहा था। उनका हाथ धीरे से मेरे लण्ड पर पहुँच गया और वो पैन्ट के ऊपर से मेरा लण्ड दबाने लगी।मैंने उनके सूट की कमीज़ उतारी और उनकी काली ब्रा के ऊपर से उनके मम्मे चूसने लगा.तो मैं सीधा उसे लेकर बाथरूम में चला गया और वहाँ जाकर फव्वारा चालू कर दिया जिससे हमारे कपड़े भीग गए और हमारे जिस्मों से कपड़े चिपक गए थे।मैंने देखा कि उसने अन्दर ब्रा नहीं पहन रखी थी.

’ की आवाज़ भी निकालने लगी।उसकी चूत गीली होने से मेरी ऊँगली भी अब आसानी से अन्दर-बाहर हो रही थी। दीपिका भी मेरा लण्ड ज़ोर-ज़ोर से हिलाने लगी और उसने नशीली आवाज में मुझसे बोला- दो उँगलियाँ अन्दर डालो न…मैंने दो ऊँगलियां अन्दर डाल दीं.बीएफ का फुल फॉर्म आगे तुम्हारी मर्ज़ी…यह कहते हुए मैं शांत होकर उसके चेहरे के भावों को पढ़ने लगा।उसका चेहरा साफ़ बता रहा था कि अब वो कोई हंगामा नहीं खड़ा करेगी.

पापा भी आ गए और हम सब रात को डिनर करके सो गए।अगली सुबह मैं 8 बजे उठी और तैयार होने लगी क्योंकि हम 9 बजे घर से निकलने वाले थे।मैं 8:30 बजे नहा-धोकर तैयार हो गई थी। मैंने कट स्लीव की पीले रंग की टी-शर्ट डाली हुई थी.

किन्नर के बीएफ सेक्सी?

बीएफ का फुल फॉर्म वो चुप रही और दाँत भींच लिए अपने ताकि दर्द हो तो चींख ना निकले।दीपक ने लौड़े पर और थूक लगाया और प्रिया के छेद पर लौड़ा टिका कर दबाव देने लगा.

बिहारी देसी बीएफ वीडियो?मुसलमान की हिंदी बीएफ

बीएफ का फुल फॉर्म मैं मुड़ा और फ़्रिज से एक फाइव-स्टार चॉकलेट ले आया।वो देख कर कुछ परेशान सी हो गई और बोली- मैं चॉकलेट नहीं.

हिंदी फिल्म पिक्चर बीएफ

जल्दबाजी मत करो।फिर धीरे-धीरे उसके मम्मों को सहलाने और दबाने लगा। अब मैंने उसका ब्लाउज उतार दिया और उसके मम्मों को दबा कर चूसने लगा था।उसके मुँह से अजीब सी आवाजें आ रही थीं- हाय.और पौने पांच बजे तक वो तौलिए से खुद को अच्छी तरह पोंछ कर चली गई।हमारा फ़िर दो साल बाद ब्रेक-अप हो गया.

बीएफ का फुल फॉर्म चूत तो पानी पी-पी कर काफ़ी गीली हो गई है। अबकी बार गाण्ड को भी वीर्य रस का मज़ा दे ही देता हूँ।दीपाली- ऑउह्ह.

मणिपुरी बीएफ

बीएफ वीडयोक्योंकि मैं घर पे खाना खाने आने के पहले हाथ से अपना माल निकाल कर आया था।मुझे गुस्सा आया और उनकी गाण्ड पर एक ज़ोर से चपत मारी।वो बोली- आहह… क्या हुआ?मैंने बोला- अभी तक बड़ी बेचैन थी.

अब तो दीपाली भी आ गई है आज साली की चूत का मज़ा ले ही लूँ।दीपक जाने लगा तो प्रिया के पापा यानि दीपक के चाचा उसे दिखाई दे गए और वो वहीं रुक गया।दीपक- अरे अंकल आप कहाँ से आ रहे हो?अंकल- तेरा कोई पता ठिकाना भी है क्या.हाथ थोड़े ही लगा रहा हूँ।मैं लगातार भाभी की उभरी हुई छातियाँ देख रहा था और इतना मजा आने लगा कि भाभी जाने कबसे मुझे और मेरी इस हालत को देख रही थी मुझे इस बात का पता ही ना चला।जब वो अपना पल्लू ठीक करके.

पर इससे पहले उसने मुझे अपना नम्बर दे दिया था।करीब एक हफ्ते बात ना करने पर मुझे उसकी कमी महसूस होने लगी.

मैंने उसकी कमीज़ को निकाल दिया और ब्रा को ऊपर की तरफ करके मैं उसकी चूचियों को चूसने लगा। उसके निप्पल सख्त हो गए थे।मैंने उसको पेड़ के साथ चिपका कर खड़ा किया और उसकी गाण्ड पर हाथ फिराया। फिर मैंने उसकी सलवार में हाथ डाल कर उसकी नंगी गाण्ड पर हाथ फिराया, मैंने एक ऊँगली उसकी गाण्ड में डाल दी.

लेकिन मन ही मन मैं ये सोच रहा था कि अब क्या करूँ? कैसे बात की जाए?फिर दो दिन बाद मेरे दोस्त ने बोला कि उसे भी वो लड़की बहुत पसन्द है. किसी का लंड है और कोई मुझे ज़ोर-ज़ोर से चोद रहा है। दस मिनट के बाद मैंने अपना पानी छोड़ दिया और शांत हो गई।फिर मैं नहा कर अपने कपड़े पहनकर बाथरूम से बाहर आ गई। मैंने ग्रे रंग की स्कर्ट डाली और ऊपर टी-शर्ट डाली थी। मेरे चूतड़ बहुत ही बाहर की तरफ दिखाई दे रहे थे।फिर मैं मॉम के पास जाकर फूलों की माला बनाने लगी।तकरीबन 45 मिनट बाद मुझे याद आया कि मेरी गीली पैन्टी बाथरूम में ही रह गई है.

एक्स बीएफ इंग्लिश पर मुझे मेरे काम से मतलब था और तब से हम दोनों का चक्कर चालू हो गया।मैं आते-जाते चोरी-छुपे उसकी पप्पियाँ लेता था.

सेक्स बीएफ लेडीस

बीएफ का फुल फॉर्म: तो मानो एक पल के लिए मुझे ये लगा कि पकड़ कर साली की गाण्ड में अपना पूरा का पूरा लण्ड पेल दूँ।उसने अपनी ब्रा और पैन्टी उतार दी.और नवीन ने भी टाटा का ही फोन ले लिया।एक दिन नवीन ने पड़ोस वाले फोन पर फोन करके मेरा मोबाइल नम्बर ले लिया.