ननंद भोजाई की बीएफ

Image source,मस्तराम सेक्स

तस्वीर का शीर्षक ,

मंगल सेक्सी: ननंद भोजाई की बीएफ, उन्होंने स्पीकर का एक सिरा ले लिया, तो मैंने फोन उनकी तरफ बढ़ाते हुए कहा.

ब्लू फिल्म नंगी इंग्लिश

अब एक बार फिर से मेरी चूत और गांड एक साथ चुदने के लिए तैयार थी और दोनों ने ही धक्के लगाने शुरू कर दिए. गाने डाउनलोड करोआपको मेरी फर्स्ट टाइम सेक्स कहानी कैसी लगी, आप अपने सुझाव मुझे इस ईमेल आईडी पर भेज सकते हैं.

उसकी कमर को किस करने के बहाने मैंने अपना लंड उसकी गांड पर टिका दिया और उसे कमर के ऊपर किस करता रहा. ब्रदर एंड सिस्टर सेक्स वीडियोमैं तो चाहता ही था कि चिंटू मेरे मम्मों को सिर्फ़ टच ना करे, बल्कि उन्हें दबाए और चूसे.

क्या और आगे कुछ करने की परमीशन है?पहले तो मैं कुछ नहीं बोली तो वो और आगे बढ़ गया.ननंद भोजाई की बीएफ: मैंने उसको अन्दर बुला लिया था क्योंकि पूरा दिन शॉपिंग की वजह से हम दोनों काफी थक गए थे.

आज मैं आप लोगों को जो कहानी बताने जा रहा हूँ वो मेरे को एक मेरे चैट फ्रेंड ने लिखने का आग्रह किया है, यह उनकी जिंदगी की ट्रू सेक्स कहानी है.एक तो जिसमें चुदाई के लिए मैसेज मिला करते थे और दूसरा जिस पर मैं अपने जान पहचान व रिश्तेदारों से बात करती थी.

चोदा चोदी दिखाओ चोदा चोदी - ननंद भोजाई की बीएफ

” करके नवीन की ओर देख कर चिल्ला रही थीं- जल्दी जल्दी चोद न कमीने… दम नहीं बची है क्या भोसड़ी के तेरे अन्दर हरामी मादरचोद.मेरी साली पीछे घूम गई और प्लेटफार्म पर हाथ रख के गांड पीछे के तरफ से उभार दी.

उसने मेरे दूध मुँह में ले लिए और उंगलियों से चूत और चूतड़ सहलाने लगा.ननंद भोजाई की बीएफ फिर वो और गरम हो गई और मुझको अपने साथ चिपकाने लगी तो मैंने उसकी पेंटी उतारी, उसकी चुत पर अभी रोयें से ही आये थे और चूत के होंठ आपस में चिपके पड़े थे.

वो भी अपनी गांड उठा कर मेरा पूरा साथ दे रही थीं और अपनी कमर उठा उठाकर मेरे लंड को अपने अन्दर तक ले रही थीं.

फोटो बनाने वाला चित्र?

ननंद भोजाई की बीएफ मैंने सीधा मॉम की मैक्सी के ऊपर से हाथ घुसाया और उनके मम्मों को सहलाने लगा.

ससुर ने बहु की चूत मारी?सेक्स फिल्म वीडियो हिंदी

ननंद भोजाई की बीएफ क्या आपने मेरी वो देख ली है?मैंने खुलते हुए कहा- हां भाभी अभी तो आपकी चुत एक जालीदार पैकेट में देखी थी.

सेक्सी वीडियो चित्रहार

मेरा एक हाथ उसकी गर्दन पर था और दूसरा हाथ उसके एक नंगे चूतड़ पर!थोड़ी देर में सांस ना आने के कारण वो बेचैन हो गई और उसने अपने होंठ मुझसे छुड़वा लिये.मुझे आज गांड ही मरवानी है मगर तेरा लंड जोश में मेरी गांड फाड़ ने दे इसलिए चुत को ही और चौड़ी कर दे.

ननंद भोजाई की बीएफ मैंने कहा- यार अर्पी, तुम तो काफी हॉट हो गयी हो, कोई सोच भी नहीं सकता था कि तुम वही अर्पिता हो।अर्पिता- सब तुम्हारे कारण!वो कैसे?” मैंने चौंक कर पूछा- मैं तो अभी अभी मिला हूँ।अर्पिता- मेरा मतलब, सब अन्तर्वासना और उस पर तुम्हारे जैसे लोगों की लिखी हुई कहानी का असर है!सच? तुम्हें मेरी कहानी अच्छी लगी?”अर्पिता- हाँ, बहुत अच्छी कहानी थी, कहानी अच्छी बना लेते हो!वो कहानी नहीं है, मेरी सच्चाई है.

सेक्सी लोकेशन

सेकसवीडीयोमैंने उसके बाल पकड़े और अपने लंड पे उसका मुँह दबाने लगा और उसका मुँह चोदने लगा.

दोस्तो, वो मेरा पहला किस था और आप जानते हो पहली बार किस की तो बात ही कुछ और होती है, चाहे वो पहला किस हो या पहला सेक्स या पहला कुछ और.ये बात मुझे पता नहीं थी कि मेरे भैया साल में दो बार घर आते थे और आंटी को उस रूम में चोद कर उनकी खुजली मिटाते थे.

आप यहाँ इतने कपड़े क्यों खरीद रही हैं? लाई नहीं है क्या?मैंने कहा- नहीं.

दीदी के चारों तरफ पानी ही पानी हो गया था जो दीदी की चुत से ही निकला था.

अब बालू मुझे दिखा, वो अपना लन्ड हाथ में लिये हिला रहा था, बालू बोला- सच बोल रहा है आशीष तू! क्या मस्त माल है ये वन्द्या… तेरा लौड़ा कैसे मस्त चूस रही थी, मैं देख कर ही पागल हो रहा था, पहले थोड़ा बुरा लगा जब तूने इसको पहले चोरी से चोद दिया और फिर जब अभी दोबारा इसकी चूत चाटना शुरू किया. मैंने वो पैकेट वहीं डाल दिया और थोड़ा सा थूक लगा कर आंटी की टाँगें उठाईं और लंड को चूत पे सैट करके हल्का सा धक्का दे मारा.

लंड चूसने के फायदे अब बालू मुझे दिखा, वो अपना लन्ड हाथ में लिये हिला रहा था, बालू बोला- सच बोल रहा है आशीष तू! क्या मस्त माल है ये वन्द्या… तेरा लौड़ा कैसे मस्त चूस रही थी, मैं देख कर ही पागल हो रहा था, पहले थोड़ा बुरा लगा जब तूने इसको पहले चोरी से चोद दिया और फिर जब अभी दोबारा इसकी चूत चाटना शुरू किया.

पीछे गले की डिजाइन

ननंद भोजाई की बीएफ: मैंने लंड के सुपारे को चुत की फांकों में घिसना शुरू किया, मुझे नहीं मालूम था कि चुत का छेद किधर होता है, बस यूं ही लगा था.वो मेरी जुल्फों में उंगलियां डाल कर मेरे बालों को खींच रहा था, लेकिन मुझे बहुत अच्छा फील हो रहा था.