बीएफ मोटी मोटी

Image source,वीडियो रेप

तस्वीर का शीर्षक ,

टेट्रासॉमी x: बीएफ मोटी मोटी, तब भी प्यास नहीं बुझ रही थी।ख़ुशी ने भी अपने और मेरे होंठों के मिलन को अपनी भी अनुमति दे दी थी, वो भी मेरे होंठों को भी चूसने लगी।एक पल को ऐसा लगा.

दामाद सास की चुदाई

चड्डी उतारते ही सीधे उसके मुँह को जा लगा।विभा ने अपने मुँह पर हाथ रख लिया और बोली- बाप रे इतना बड़ा. मामी की चुदाई की कहानीतो उसे मैं और मेरे सास-ससुर सरकारी हॉस्पिटल लेकर गए, साथ में तनु के अंकल का लड़का कमल भी आया था।जनाना वार्ड में पुरुषों का प्रवेश वर्जित था.

’भाभी… तुम्हारे साथ ये सब करते करते मेरी चूत में बहुत खुजली होने लगती है… तुम तो बहुत चुद चुकी हो पर मेरी चूत ने तो बस तुम्हारी उंगली का ही मज़ा लिया है अब तक… मेरी चूत को अब लंड चाहिए वो भी असली वाला!’‘अच्छा जी… मेरी बन्नो रानी को अब लंड चाहिए… आने दे तेरे भाई को… तेरी शादी का इंतजाम करवाती हूँ।’‘भाभी अगर बुरा ना मानो तो एक बात कहूँ…’‘हाँ बोलो. गाने वीडियो सेक्सओह्ह या पायल ऐसे ही चूसो।’पायल के मुँह की गर्मी और उसके मुँह के अन्दर की लार ने मेरे जिस्म में उत्तेजना की लहर दौड़ा दी। मैंने उसके सर को जोर से पकड़ रखा था।कभी वो लण्ड की चमड़ी पीछे करके मेरे सुपाड़े पर जीभ से चारों तरफ चाटती या फिर लण्ड को मुँह में ले कर चूसने लगती।‘ओह्ह आह उफ़.

तो मैं लन्ड अप-डाउन करने लगा।फिर कुछ ही धक्कों के बाद वो मेरा साथ देने लगी और कुछ मिनट बाद उसने मुझे कस के जकड़ लिया। फिर वो एकदम से ढीली हो गई.बीएफ मोटी मोटी: मेरा लण्ड पूरा खड़ा हो चुका था। मैंने उसको पीछे से बाँहों में लेकर अपना पूरा लण्ड उसकी गाण्ड की दरार में लगा दिया और गर्दन पर अपने भीगे होंठ फिराने लगा।पायल- अह्ह्ह उउहह.

एक कैंडल उन्होंने थूक से गीला करके मेरी गाण्ड में भी डाल दी। मुझे थोड़ा दर्द हुआ लेकिन मज़ा भी आ रहा था।सारी आंटियां इतनी चुदक्कड़ थीं कि उन्हें किसी बात का होश नहीं था। सारी आंटियां एक-दूसरे से लिपट-लिपट कर कोल्डड्रिंक से लबरेज कभी चूत को.ताकि वह चूचियों की झलक देखे और आकर्षित हो जाए।जब वह मेरे से बिल्कुल सट गया, तो मैंने उसे दोनों हाथों से धक्का देते हुए कहा- परे हटो.

सनी देओल की सेक्सी फिल्म - बीएफ मोटी मोटी

अब दीदी भी लम्बी-लम्बी साँसें भर रही थीं और चूतड़ भी काफी सख्त हो गए थे.उफ़ मेरी चूत तो एकदम से पानी छोड़ देगी राजा, अब तो मुझे बस इसे अपनी चूत में घुसा कर चोदना ही पड़ेगा और अगर तूने रोका तो सच में तेरे लन्ड का जबर चोदन कर दूंगी।’मुझे भी बहुत जोश चढ़ गया, लौड़ा तो पहले से तन कर खड़ा था, मैं भी एकदम से उठ कर बैठ गया और दोनों हाथ से उसके चूतड़ पकड़ कर चूची को मुँह में लेकर जोर से चूस लिया और कड़क दाने को मसल डाला।पम्मी जोर से उछल गई और सिसकार कर बोली- वाह.

अब तो मैं रोज़ ही रात को उसे चोदने लगा, जैसे उसकी गांड मेरे लिए ही बनी हो!उसका लंड खड़ा होने पर भी 4 इंच का हो पाता था लेकिन उसका कोमल लड़कियों जैसा जिस्म और मखमली गांड.बीएफ मोटी मोटी जो शायद उसके मन को भा गया था।बस अब वो रोज मुझे वहशीपन से देखने लगी और मैं उसके गुलाबी होंठों को चूस कर निचोड़ लेना चाहता था।पर क्या करता छोटा सा गाँव था.

मगर रास्ते में ही उसका पेशाब निकल गया और उसकी चड्डी और फ्रॉक गंदी हो गई।बाथरूम में जाकर उसने अपनी फ्रॉक और चड्डी को धोया और फिर मुझे आवाज़ देकर कहने लगी- मेरे कपड़े गंदे हो गए हैं.

लड़के सेक्स?

बीएफ मोटी मोटी जोरदार झटके झेले हों तो मेरे आनन्द को समझ सकते हैं।हम दोनों ही एक-दूसरे की लय ताल में थे, आनन्द में डूबे थे।फिर उसका पानी छूट गया, हम अलग हो गए.

सेक्सी 14 वर्ष?इंडियन सेक्स आंटी

बीएफ मोटी मोटी मैं बीच में बैठा था और मेरी भाभी मेरे पीछे थीं। मैं उनसे छोटा और सब का लाड़ला था.

साड़ी वाली भाभी

’ की आवाज गूँज रही थी।मैंने फिर उनकी बालों को पकड़ा और कहा- उठ मादरचोद.’ की आवाजों के साथ एक साथ झड़ गईं।मैंने तुरन्त अपनी जुबान निकाल ली और दोनों के अमृत रस को पीने लगा। वो दोनों भी आगे एक-दूसरे को ‘ऊह्ह्ह्ह.

बीएफ मोटी मोटी तो मैं सीढ़ियों से नीचे चला गया।चूंकि सीढ़ियों के सामने बाथरूम का दरवाज़ा है.

यू आर सेक्सी

अंग्रेजी सेक्स करते हुएहमने चाय पी।फिर मैं भाभी की गोदी में सर रख कर लेट गया।रात की नींद नहीं होने की वजह से थकावट ज़्यादा थी.

तो मुझे लगा कि जैसे चाचा की जाँघों के बीच कोई सख्त रॉड हो और वहाँ मम्मी का हाथ सरक रहा था।मम्मी- हाय मेरी जान.ना जाने वो कैसे इतनी खूबसूरत लड़की को धोखा दे सकता है।मेरे धक्के तेज़ होते जा रहे थे और आफरीन भी गाण्ड उठा-उठा कर मेरा साथ दे रही थी।मैंने अपनी स्पीड और तेज़ कर दी, वो अब तक बीच में एक बार पहले भी झड़ चुकी थी, पूरे कमरे में ‘फक्च.

मेरे हाथ काँपने लगे।वो तो अच्छा हुआ कि उनके कमरे का गेट लगा हुआ था.

ये कितने मादक हैं।अगले ही पल डॉक्टर बोला- भाभी जी अब मुझे आपका गाउन नीचे से थोड़ा ऊपर को करना होगा.

हम दोनों ही बहुत मस्ती में थे और दस मिनट तक इसी तरह चुदाई का मज़ा लेते रहे।‘हा. उससे भी दूर से बात करता हूँ। पता नहीं मुझे डर लगता है कि कहीं पकड़े गए तो मर जाएंगे।माया- हिम्मत रख.

बीपी मूवी बीपी मूवी और शिथिल हो गए।थोड़ी देर बाद जब हम लोग सयंत हुए तब हम दोनों ने अपने-अपने कपड़े पहने और वो अपने घर चली गई।बाद में मैंने खून से सनी चादर को धोया।दोस्तो, यह थी मेरी और शिवानी की चुदाई।क्या आप भी मुझसे बात करना चाहते हैं.

पाकिस्तानी ब्लू

बीएफ मोटी मोटी: इधर तो लीला शुरू भी हो गई।मैंने- तू भी आजा।बस फिर क्या था हम दोनों ने खूब मज़े से उसे चूमा-चाटा.चुदाई और चुदाई।सोमवार सुबह तक चुदाई के सारे रिकॉर्ड टूट चुके थे और दोनों चूतों का मुरब्बा बन चुका था।वापस आकर चारों ने दोस्ती की कसम लेकर यह वादा किया कि अब सिर्फ हर शनिवार को मिला करेंगे और इस बीच कभी कुछ नहीं!ऐसा इसलिए भी जरूरी था कि इन रिश्तों में परस्पर विश्वास बहुत जरूरी है।तो मेरे प्रिय पाठको, कमेंटस और मेल में लिखिएगा कि कैसी लगी आपको मेरी सेक्स कहानी![emailprotected].